पुरालेख में समाचार

पिछले महीनों में उम्मीदवारों के लाभ के लिए जारी सूचना:

भर्ती


आरआरसी-01/2019 - अपडेट

 

सीईएन 03/2019 - अपडेट

 

सीईएन 02/2019 - अपडेट

 

सीईएन 01/2019 - अपडेट

 

सीईएन 03/2018 - अपडेट

 

सीईएन 02/2018 - अपडेट

 

सीईएन 01/2018 - अपडेट

ताज़ा खबर

सीबीटी एसटी . के लिए परिणाम और कट ऑफ सीबीटी 2 (लेवल 2 और 5) पूर्व मध्य रेलवे द्वारा NTPC CBT-2 (10 जून से 16 जून 2022) उम्मीदवारों के लिए विशेष ट्रेनें ।

कंप्यूटर आधारित अभिरुचि जांच (CBAT) हेतु शॉर्टलिस्ट किए गए अभ्यर्थियों की सूची

ई-कॉल लेटर/परीक्षा तिथि और शहर सूचना/नि:शुल्क यात्रा प्राधिकरण और स्कोर कार्ड लिंक डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें

प्रश्न पत्र, विकल्प, उत्तर, उत्तर कुंजी देखने और प्रश्न /विकल्प/कुंजी पर आपत्ति (यां ), यदि कोई हो तो, दर्ज करने के लिए यहां क्लिक करें

पूर्व मध्य रेलवे द्वारा NTPC CBT-2 (9/10 मई 2022) उम्मीदवारों के लिए विशेष ट्रेनें । जानकारी:CEN 03_2019 (मिनिस्टेरिअल एवं आइसोलेटेड कोटियों) के लिए दस्तावेज़ सत्यापन के लिए उम्मीदवारों की शॉर्टलिस्ट

CEN 03_2019 के लिए दस्तावेज़ सत्यापन (मुख्य) के लिए शॉर्टलिस्ट किये गए उम्मीदवारों के लिए कट ऑफ मार्क्स

स्कोर कार्ड लिंक

सूचना: एनटीपीसी सीबीटी-2 के लिए परीक्षा सिटी स्लिप और स्कोर कार्ड लिंक

सूचना: एनटीपीसी सीबीटी-2 के लिए मॉक टेस्ट लिंक

सूचना:एनटीपीसी सीबीटी-2 के लिए हेल्पडेस्क लिंक

सीईएन 01/2019 (एनटीपीसी) और सीईएन नंबर आरआरसी-01/2019 (लेवल -1 पद): अभ्यार्थियों की शिकायतों के निवारण पर सूचना।

अभ्यर्थियों के लिए महत्वपूर्ण सूचना

CEN : -01/2019 : सीईएन-01/2019 के अंतर्गत प्रकाशित एनटीपीसी पदों (कोटि संख्या 1, 2, 3, 4, 5, 6, 9, 10, 11 और 13) के सीबीटी- I का परिणाम और कट-ऑफ अंक प्रकाशित किए गए हैं। व्यक्तिगत प्रश्न पत्र, उत्तर कुंजी, अंतिम स्कोर कार्ड और शॉर्टलिस्टेड स्थिति देखने के लिए लिंक भी दिया गया है।

रेलवे भर्ती बोर्ड (आरआरबी) के संबंध में किसी भी सूचना / जानकारी के लिये उम्मीदवारों को आरआरबी की आधिकारिक वेबसाइटों पर जाना चाहिए।
आरआरबी के संबंध में सोशल मीडिया में प्रसारित की जा रही किसी भी सूचना/जानकारी पर कृपया ध्यान न दें।


अस्वीकरण
इस साइट की सामग्री को कानून के संपूर्ण विवरण के रूप में नहीं माना जाना चाहिए।

चेतावनी

अनुचित साधनों का प्रयास करने वाले अभ्यर्थियों को अयोग्य घोषित कर आगामी परीक्षाओं से वंचित कर दिया जाएगा और साथ ही उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जा सकती है।